Computer Courses after 12th:12वीं पास करने के बाद, ये कंप्यूटर कोर्स करने से नौकरी और लाखों में सेलरी पक्की…

Computer Courses after 12th: कंप्यूटर और प्रौद्योगिकी क्षेत्रों में तीव्र विकास ने रोजगार के व्यापक अवसर पैदा किए हैं। 12वीं कक्षा के बाद, अगर आप कंप्यूटर क्षेत्र में करियर बनाने की सोच रहे हैं, तो सभी प्रमुख कंप्यूटर कोर्सों के बारे में जानना महत्वपूर्ण है। इस ज्ञान की सहायता से आप यह निर्णय ले सकते हैं कि कौन सा कोर्स आपके लिए सबसे अच्छा है। इस लेख में 12वीं कक्षा के बाद कंप्यूटर कोर्सों के प्रमुख पहलुओं को उजागर किया गया है, जिससे आप अच्छी नौकरी प्राप्त कर सकते हैं।

12वीं के बाद अनिवार्य कंप्यूटर कोर्स: 

ये पढ़े: Google Pay Loan Apply: यहां से करें ऑनलाइन आवेदन, घर बैठें मिलेगा 5 लाख रुपये तक का पर्सनल लोन सिर्फ 5 मिनट में

1. B.Tech (कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग): यह एक चार वर्षीय इंजीनियरिंग डिग्री कोर्स है जिसमें आपको कंप्यूटर साइंस और इंजीनियरिंग से संबंधित विषयों का अध्ययन कराया जाता है। इसमें सॉफ्टवेयर विकास, नेटवर्किंग, डेटाबेस, वेब विकास आदि क्षेत्रों में विशेषज्ञता प्रदान की जाती है।

2. B.Sc (कंप्यूटर एप्लिकेशन): यह एक तीन वर्षीय कोर्स है जो आपकी कंप्यूटर और सॉफ्टवेयर विकास क्षेत्र में कौशलों को बढ़ाने के लिए डिज़ाइन किया गया है। इसमें प्रोग्रामिंग भाषाओं, डेटाबेस प्रबंधन, वेब विकास, ग्राफ़िक्स डिज़ाइनिंग आदि विषयों पर जोर दिया जाता है।

3. BCA (बैचलर्स इन कंप्यूटर एप्लिकेशन): यह तीन वर्षीय कोर्स कंप्यूटर साइंस और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में विशेषज्ञता प्रदान करता है। इस कोर्स के माध्यम से, आप प्रोग्रामिंग, सॉफ्टवेयर विकास, डेटाबेस डिज़ाइन और प्रबंधन, इंटरनेट प्रौद्योगिकी आदि के बारे में ज्ञान प्राप्त कर सकते हैं।

ये पढ़े: Kisan Home Loan: अब किसान को सरकार से खेती में घर बनाने के लिए मिलेगा सरकारी लोन, ऐसे करें आवेदन...

4. NSTE (नेटवर्किंग और इंफ्रास्ट्रक्चर साइबर सुरक्षा इंजीनियरिंग): यह तीन वर्षीय कोर्स नेटवर्किंग और साइबर सुरक्षा क्षेत्र में विशेषज्ञता प्रदान करता है। इसमें संचालित नेटवर्क आधारित्र, साइबर सुरक्षा प्रबंधन, सुरक्षा प्राधिकरण आदि महत्वपूर्ण विषयों की शिक्षा दी जाती है।

5. DCA (डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लिकेशन): यह एक वर्षीय डिप्लोमा कोर्स है जिसमें साधारण कंप्यूटर आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए आवश्यक कौशलों का अध्ययन कराया जाता है। इसमें MS Office, Internet Applications, Operating Systems, Accounting Applications, etc के प्रमुख विषयों का समावेश होता है।

उपरोक्त कोर्सों में से किसी को चुनने से पहले, आपको अपनी रुचि, कौशल और करियर लक्ष्यों का सम्मान करना चाहिए। आपका चयन आपके भविष्य को प्रभावित करेगा, इसलिए सावधानीपूर्वक और सोच समझकर फैसला करें।

ये पढ़े: Honda Unicorn: बाइक लेकर आई नए फीचर्स, जानिए इस धमाकेदार फीचर बाइक की नई कीमत

Leave a Comment

सरकारी योजना ग्रुप