Monsoon Update: 9 जून से 21 जून, 73 घंटों तक रुकने वाली नहीं है बारिश, जानिए किस क्षेत्र में कब होगी

Monsoon Update: इस साल की मौसमी प्रवृत्तियों में कुछ असामान्यता नजर आ रही है, जैसे कि बारिश बिना बरसात के और गर्मी बारिश के मौसम में। India Meteorological Department (IMD) ने देश के विभागीय स्तर पर भारी से अत्यधिक बारिश की भविष्यवाणी की है। इसके साथ-साथ, कुछ क्षेत्रों में अगले पांच दिनों तक लू की संभावना भी है। इस लेख में हम विभिन्न इलाकों में बारिश की संभावना और बारिश की शुरुआत की तारीख पर चर्चा करेंगे।

अत्यधिक बारिश की संभावना कहां है?

बिपरजॉय के कारण प्रदेश के पश्चिमी हिस्से में तापमान में गिरावट आई है। साथ ही, बीते दिनों में सीधी में सर्वाधिक तापमान 42.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। मौसम विज्ञानी जेपी विश्वकर्मा के अनुसार, चंबल, ग्वालियर, और उज्जैन संभागों में रविवार को बारिश की संभावना है। सोमवार को भी बिपरजॉय के असर से हल्के बादल छाए रहने की संभावना है, और तेज हवा भी चल सकती है। उन्होंने बताया कि अगले कुछ दिनों में बौछारों वाली स्थिति बन सकती है। इसके साथ ही, तापमान में अधिक बढ़ोतरी की संभावना नहीं है।

ये पढ़े: Gold Price July Update: अब 10 ग्राम सोना सिर्फ इतने से हज़ार रुपये में, मत जाने दिजिए ये गोल्ड खरीदने का मौका...

बारिश और आंधी की संभावना कब है?

बिपरजॉय नामक तूफान अब कम दबाव के क्षेत्र में तब्दील हो गया है, जो वर्तमान में राजस्थान में सक्रिय है। यह सिस्टम राजस्थान से होते हुए पश्चिम-दक्षिण राजस्थान के दिशा में बढ़ रहा है और ग्वालियर-चंबल संभाग के उत्तरी हिस्सों के द्वारा गुजरेगा। 19 से 20 जून के बीच इसके प्रभाव को महसूस किया जा सकता है। आंधी और कुछ क्षेत्रों में भारी बारिश की संभावना भी है, जिसमें राजस्थान और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्से ज्यादा प्रभावित हो सकते हैं।

21 से 23 जून के बीच हल्की बारिश का दौर जारी रहेगा, जिससे मौसम में ठंडक पैदा होगी और उमस से भी राहत मिल सकती है। बारिश के दो दिनों के ब्रेक के बाद, बंगाल की खाड़ी से मानसून की आगमन की संभावना है। मौसम विभाग ने 26 से 27 जून के बीच मानसून की आगमन की संभावना बताई है, इसके पीछे कारण बंगाल की खाड़ी में एक मजबूत सिस्टम है, जो आगे बढ़ रहा है।

ये पढ़े: Tata Nano Ev: जल्द ही आ रही हैं टाटा की नई इलेक्ट्रिक कार, सिर्फ इतनी होगी कीमत

Leave a Comment

सरकारी योजना ग्रुप