PM Scheme 15th Kist Date: मोदी सरकार ने इस स्कीम की 15वीं किस्त पर एक बड़ा नया अपडेट दिया है, अब तक जानिए..

PM Scheme 15th Kist Date: बीते महीने, यानी 27 जुलाई 2023 को, मोदी सरकार ने पीएम किसान सम्मान निधि योजना की 14वीं किस्त की घोषणा की थी। इस किस्त में लगभग 8.5 करोड़ किसानों को लाभ पहुँचा था। केंद्र सरकार ने आगामी किस्त के लिए आवेदन प्रक्रिया की शुरुआत कर दी है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना केंद्र सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं में से एक है, जिसके अंतर्गत पात्र किसानों को हर साल 6,000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।

पीएम किसान सम्मान निधि की 15वीं किस्त की तिथि अभी घोषित नहीं हुई है, हालांकि पुराने आंकड़े सुझाते हैं कि 15वीं किस्त नवंबर या दिसंबर 2023 तक प्राप्त हो सकती है। यह सधे-संपूर्ण किसानों के बैंक खातों में सीधे जमा की जाएगी। एक महत्वपूर्ण बात यह है कि जिन किसानों की बैंक खाता ई-केवाईसी से लिंक नहीं हुई है, वे शीघ्र ही इस काम को पूरा कर लें।

ये पढ़े: Fly Ash Bricks: लाल ईंट निर्माण की लाइसेंस खत्म, सरकार की नई पहल से बिजनेस के नए मार्ग

महत्वपूर्ण दस्तावेज – 
पीएम किसान सम्मान निधि की 15वीं किस्त का लाभ पाने के लिए, किसानों को ई-केवाईसी, भूमि सत्यापन, और आधार कार्ड से बैंक खाता लिंक करना आवश्यक है। अगर आपने अभी तक ई-केवाईसी कार्य नहीं किया है, तो आपको आगामी किस्त से वंचित रहने की संभावना है। पीएम किसान की 15वीं किस्त की स्थिति की जानकारी प्राप्त करने के लिए, आवेदक विशिष्ट अपडेट प्राप्त करने के लिए pmkisan.gov.in पर जा सकते हैं।

मोदी सरकार ने पिछले महीने, यानी 27 जुलाई 2023 को, पीएम किसान सम्मान निधि योजना की 14वीं किस्त को जारी किया था। इस 14वीं किस्त में, लगभग 8.5 करोड़ किसानों ने योजना के तहत आर्थिक लाभ प्राप्त किया। अब, केंद्र सरकार ने आगामी किस्त के लिए आवेदन प्रक्रिया की शुरुआत कर दी है।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना, केंद्र सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं में से एक है, जिसके तहत पात्र किसानों को हर साल 6,000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। योजना की 15वीं किस्त की तिथि अभी घोषित नहीं हुई है, लेकिन पुराने आंकड़ों के अनुसार यह नवंबर या दिसंबर 2023 तक प्राप्त हो सकती है।

ये पढ़े: Old Age Pension Yojana : वृद्धावस्था पेंशन योजना के लिए आवेदन यहां से करें.

Leave a Comment

सरकारी योजना ग्रुप