PPF Interest Rate: ईपीएफओ सदस्यों के लिए मोदी सरकार द्वारा छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों की जानकारी

PPF Interest Rate: ईपीएफओ सदस्यों के लिए नवीनतम अपडेट महत्वपूर्ण जानकारी प्रस्तुत करता है। ईपीएफओ के 6 करोड़ से अधिक सदस्यों के लिए यह समाचार आशावादी हो सकता है। सूत्रों की मानें तो, सरकार हर महीने छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों का पुनरावलोकन करती है। केंद्र सरकार ने मार्च 2023 में अंतिम बार छोटी बचत योजनाओं के लिए ब्याज दरों में वृद्धि की थी।

विश्वसनीय सूत्रों के अनुसार, केंद्र सरकार 3 वर्षों बाद PPF की ब्याज दरों में वृद्धि की संभावना देख रही है। इस बार, जून महीने के अंत में PPF के ब्याज दरों में वृद्धि की संभावना का अनुमान लगाया जा रहा है। अप्रैल 2020 से केंद्रीय सरकार ने PPF ब्याज दरों में कोई वृद्धि नहीं की है। हालांकि, मोदी सरकार द्वारा PPF निवेशकों के लिए ब्याज दरों में वृद्धि की अच्छी खबर आ सकती है। हमारे देश में, 1 अप्रैल 2020 से ब्याज दर 7.1 प्रतिशत ही है, जिसमें अब तक कोई भी वृद्धि नहीं की गई है।

ये पढ़े: Kisano Ko Free Bijli: अब जानिए कैसे आपको मिल सकती है फ्री बिजली, नहीं देना है बिजली बिल उठाएं लाभ...

Jitendra Sahu, एक प्राइवेट कंपनी के कर्मचारी, के परिवार को उनकी बालासोर ट्रेन हादसे में मृत्यु के बाद भविष्य निधि, पेंशन, और बीमा की सुविधा प्रदान की गई है। EPFO ने बालासोर, खुर्दा, और जाजपुर – इन तीन जिलों में अपनी फील्ड मशीनरी का सक्रिय रूप से उपयोग करके बालासोर ट्रेन हादसे में प्रभावित लोगों की जानकारी इकट्ठा की है।

PPF निवेश योजना सबसे अधिक ब्याज देने वाली लोकप्रिय सरकारी योजना है। 15 साल की निवेश सीमा वाले इस योजना में, निवेशक वार्षिक रूप से अधिकतम 1.5 लाख रुपये जमा कर सकते हैं। वर्तमान में इस पर 7.1 प्रतिशत की ब्याज दर लागू है, और इससे निवेशकों को वार्षिक ब्याज के रूप में 10,650 रुपये प्राप्त होते हैं।

ये पढ़े: TATA Work from home: टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, एक सफल दूरस्थ करियर के लिए आपका मार्गदर्शक

Leave a Comment

सरकारी योजना ग्रुप