RBI अपडेट: नहीं लौटेंगे 1000 रुपये के नोट, 500 रुपये के नोटों को लेकर आया बड़ा अपडेट

RBI अपडेट: RBI के गवर्नर शक्तिकांत दास ने 2000 रुपये के नोट को मार्केट से हटाने के आरबीआई के निर्णय के बाद मुंबई में पहली बार बयान दिया। उन्होंने इसके पीछे के कारणों को विस्तार से समझाया, जो देश के सबसे बड़े नोट को मार्केट से हटाने के निर्णय से जुड़े थे। उन्होंने जवाब दिया कि क्या आरबीआई 1000 रुपये के नोट को लॉन्च करने की योजना बना रहा है, जिसका उनका जवाब था कि वर्तमान में ऐसी कोई योजना नहीं है।

1000 और 500 रुपये के पुराने नोट कब समाप्त हुए थे?
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर 2016 को टेलीविजन की घोषणा के माध्यम से 1000 रुपये और उस समय के 500 रुपये के नोटों की नोटबंदी की घोषणा की थी। उसी रात्रि 12 बजे से 1000 रुपये और उस समय के 500 रुपये के नोट मान्य नहीं रहे थे। इस निर्णय को काला धन रोकने के उद्देश्य से लिया गया था। उसके बाद, बैंकों में कई दिनों तक 1000 और 500 रुपये के नोट बदलने की भीड़ देखने को मिली थी।

ये पढ़े: Petrol Quality Check: पेट्रोल भरते समय इन टिप्स को नजरअंदाज न करें, ठगी से बचें

आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने मुंबई में 2000 रुपये के नोट को मार्केट से हटाने पर कहा कि चार महीने का समय दिया गया है और लोगों को इसे गंभीरता से लेना चाहिए। इतना समय नोट बदलने के लिए पर्याप्त होना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि भारत का मुद्रा प्रबंधन प्रणाली काफी मजबूत है।

500 रुपये के और नोट लाने पर आरबीआई गवर्नर ने क्या कहा-
आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि 500 रुपये के और नोट लाने का निर्णय जनता की मांग पर निर्भर करेगा। उल्लेखनीय है कि पिछले शुक्रवार, 19 मई को, आरबीआई ने यह घोषणा की कि 2000 रुपये के नोट को मार्केट से हटाया जा रहा है। इन्हें बदलने और जमा करने के लिए 30 सितंबर 2023 तक का समय दिया गया है। हालांकि, आरबीआई ने आज घोषणा की है कि 2000 रुपये का नोट अब भी मान्य ह

ये पढ़े: Google Job Story: जानिए क्या है इस बच्चे में ऐसा खास कि बिना कॉलेज डिग्री के भी गूगल में लग गया और उसको 50 लाख का पैकेज मिला...

Leave a Comment

सरकारी योजना ग्रुप